कर्मभूमि उपन्यास का संक्षिप्त कथानक | Brief Plot of the Novel Karmabhoomi

प्रेमचंद द्वारा लिखित सेवा मार्ग कहानी का सारांश

Study Material : Delhi University, IGNOU, DU, MHD, Munshi Premchand कर्मभूमि उपन्यास का परिचय (Introduction to the Novel Karmabhoomi) कर्मभूमि प्रेमचन्द जी द्वारा लिखित राजनीतिक उपन्यास है। कर्मभूमि उपन्यास पहली बार १९३२ में प्रकाशित हुआ। वर्तमान में अनेक प्रकाशकों द्वारा कर्मभूमि के अनेक संस्करण निकाले जा चुके हैं। इस उपन्यास के माध्यम से विभिन्न राजनीतिक समस्याओं … Read more

Study Material : प्रेमचंद द्वारा लिखित कहानी बलिदान | Story Balidan written by premchand

प्रेमचंद द्वारा लिखित सेवा मार्ग कहानी का सारांश

Study Material : Delhi University, IGNOU, DU, MHD, Munshi Premchand कहानी मनुष्य की आर्थिक अवस्था का सबसे ज्यादा असर उसके नाम पर पड़ता है। मौजे बेला के मँगरू ठाकुर जब से कान्सटेबल हो गए हैं, इनका नाम मंगलसिंह हो गया है। अब उन्हें कोई मंगरू कहने का साहस नहीं कर सकता। कल्लू अहीर ने जब से … Read more

Study Material : मुंशी प्रेमचंद की कहानी आहुति का सारांश व समीक्षा | Summary and Review of Munshi Premchand’s Story Aahuti

शांति

Study Material : Delhi, IGNOU मुंशी प्रेमचंद | Munshi Premchand, MHD आहुति कहानी का परिचय समाज के अधिकतर व्यक्ति को पता होता है कि क्या सही है क्या गलत है फिर भी व्यक्ति गलत को गलत कहने की हिम्मत इसलिए नहीं करता क्योंकि उसे समाज के द्वारा बहिष्कृत किए जाने या समाज के द्वारा उसका अहित … Read more

Study Material : प्रेमचंद द्वारा लिखित उपन्यास गोदान भाग – 35 | Novel Godan written by Premchand part 35

कायाकल्प उपन्यास का संक्षिप्त सारांश | Brief Summary of Kayakalp Novel

Study Material : Delhi, IGNOU मुंशी प्रेमचंद | Munshi Premchand गोदान भाग 35 दो दिन तक गाँव में खूब धूमधाम रही। बाजे बजे, गाना-बजाना हुआ और रूपा रो-धो कर बिदा हो गई, मगर होरी को किसी ने घर से निकलते न देखा। ऐसा छिपा बैठा था, जैसे मुँह में कालिख लगी हो। मालती के आ जाने … Read more

Study Material : प्रेमचंद द्वारा लिखित उपन्यास गोदान भाग – 34 | Novel Godan written by Premchand part 34

कायाकल्प उपन्यास का संक्षिप्त सारांश | Brief Summary of Kayakalp Novel

Study Material : Delhi, IGNOU मुंशी प्रेमचंद | Munshi Premchand गोदान भाग 34 होरी की दशा दिन-दिन गिरती ही जाती थी। जीवन के संघर्ष में उसे सदैव हार हुई, पर उसने कभी हिम्मत नहीं हारी। प्रत्येक हार जैसे उसे भाग्य से लड़ने की शक्ति दे देती थी, मगर अब वह उस अंतिम दशा को पहुँच गया … Read more

Study Material : प्रेमचंद द्वारा लिखित उपन्यास गोदान भाग – 33 | Novel Godan written by Premchand part 33

कायाकल्प उपन्यास का संक्षिप्त सारांश | Brief Summary of Kayakalp Novel

Study Material : Delhi, IGNOU मुंशी प्रेमचंद | Munshi Premchand गोदान भाग 33 सिलिया का बालक अब दो साल का हो रहा था और सारे गाँव में दौड़ लगाता था। अपने साथ वह एक विचित्र भाषा लाया था, और उसी में बोलता था, चाहे कोई समझे या न समझे। उसकी भाषा में ट, ल और घ … Read more

Study Material : प्रेमचंद द्वारा लिखित उपन्यास गोदान भाग – 32 | Novel Godan written by Premchand part 32

कायाकल्प उपन्यास का संक्षिप्त सारांश | Brief Summary of Kayakalp Novel

Study Material : Delhi, IGNOU मुंशी प्रेमचंद | Munshi Premchand गोदान भाग 32 डाक्टर मेहता परीक्षक से परीक्षार्थी हो गए हैं। मालती से दूर-दूर रह कर उन्हें ऐसी शंका होने लगी है कि उसे खो न बैठें। कई महीनों से मालती उनके पास न आई थी और जब वह विकल हो कर उसके घर गए, तो … Read more

Study Material : प्रेमचंद द्वारा लिखित उपन्यास गोदान भाग – 31 | Novel Godan written by Premchand part 31

कायाकल्प उपन्यास का संक्षिप्त सारांश | Brief Summary of Kayakalp Novel

Study Material : Delhi, IGNOU मुंशी प्रेमचंद | Munshi Premchand गोदान भाग 31 मिर्जा खुर्शेद ने अस्पताल से निकल कर एक नया काम शुरू कर दिया था। निश्चिंत बैठना उनके स्वभाव में न था। यह काम क्या था? नगर की वेश्याओं की एक नाटक-मंडली बनाना। अपने अच्छे दिनों में उन्होंने खूब ऐयाशी की थी और इन … Read more

Study Material : प्रेमचंद द्वारा लिखित उपन्यास गोदान भाग – 30 | Novel Godan written by Premchand part 30

कायाकल्प उपन्यास का संक्षिप्त सारांश | Brief Summary of Kayakalp Novel

Study Material : Delhi, IGNOU मुंशी प्रेमचंद | Munshi Premchand गोदान भाग 30 रायसाहब का सितारा बुलंद था। उनके तीनों मंसूबे पूरे हो गए थे। कन्या की शादी धूम-धाम से हो गई थी, मुकदमा जीत गए थे और निर्वाचन में सफल ही न हुए थे, होम मेंबर भी हो गए थे। चारों ओर से बधाइयाँ मिल … Read more

Study Material : प्रेमचंद द्वारा लिखित उपन्यास गोदान भाग – 29 | Novel Godan written by Premchand part 29

प्रेमचंद द्वारा लिखित सेवा मार्ग कहानी का सारांश

Study Material : Delhi, IGNOU मुंशी प्रेमचंद | Munshi Premchand गोदान भाग 29 मिल करीब-करीब पूरी जल चुकी है, लेकिन उसी मिल को फिर से खड़ा करना होगा। मिस्टर खन्ना ने अपनी सारी कोशिशें इसके लिए लगा दी हैं। मजदूरों की हड़ताल जारी है, मगर अब उससे मिल-मालिकों को कोई विशेष हानि नहीं है। नए आदमी … Read more