Study Material : कर्मभूमि उपन्यास का संक्षिप्त सारांश | Brief summary of the novel Karmabhoomi

कायाकल्प उपन्यास का संक्षिप्त सारांश | Brief Summary of Kayakalp Novel

प्रेमचन्द द्वारा लिखे उपन्यास कर्मभूमि का सारांश | Summary of the Novel Karmabhoomi Written by Premchand उपन्यास का परिचय (Introduction to the Novel) अक्सर यह देखा जाता है कि माता-पिता और संतान के विचारों में फर्क होता है। किशोरावस्था के दौरान संतान के विचार माता-पिता के विपरीत होने लगते हैं। ऐसा आज से नहीं है, … Read more

कर्मभूमि का सारांश : अमरकान्त के जीवन में सकीना का अगमन | Summary of Karmabhoomi Novel

कर्मभूमि प्रेमचन्द (कर्मभूमि भाग – 1 अध्याय 13 व अध्याय 14) Study Material | (Karmabhumi Part – 1 Chapter 13 and Chapter 14) ग्यारह कर्मभूमि (भाग -1) अध्याय तेरह का सारांश | Karmabhoomi (Part – 1) Summary of Chapter Thirteen मुन्नी के बरी होने की खबर पूरे शहर में फैल गई। किसी ने कहा – … Read more

कर्मभूमि का सारांश व समीक्षा : सुखदा को पुत्र हुआ व मुन्नी बरी हो गई | Summary of Karmabhoomi Novel

प्रेमचंद

कर्मभूमि प्रेमचन्द (कर्मभूमि भाग – 1 अध्याय 11 व अध्याय 12) Study Material | (Karmabhumi Part – 1 Chapter 11 and Chapter 12) ग्यारह संक्षिप्त सारांश (Brief Summary) अमरकान्त और सुखदा को पुत्र की प्राप्ति हई। पुत्र होने के परिणाम स्वरूप समरकान्त ने जलसा किया। अमरकान्त अपने घर में व्यस्त हो गया इसलिए वह कचहरी … Read more

प्रेमचन्द द्वारा लिखित उपन्यास कर्मभूमि का सारांश : भिखारिन को न्याय दिलाने का प्रयास | Summary of Karmabhoomi Novel

प्रेमचंद

प्रेमचन्द (कर्मभूमि भाग – 1 अध्याय 9 व अध्याय 10) Study Material | (Karmabhumi Part – 1 Chapter 9 and Chapter 10) कर्मभूमि (भाग – 1) अध्याय नौ का सारांश | Karmabhoomi (Part – 1) Summary of Chapter Nine अमरकान्त ने अपने पिता की बात मानने का वादा सुखदा से कर लिया था, लेकिन वह … Read more

प्रेमचन्द द्वारा लिखित उपन्यास कर्मभूमि का सारांश : अमरकान्त व समरकान्त में मतभेद | Summary of Karmabhoomi Novel

कायाकल्प उपन्यास

Study Material : (कर्मभूमि भाग – 1 अध्याय 8) अध्याय आठ का संक्षिप्त परिचय (Brief Introduction to Chapter Eight) इस अध्याय में अमरकान्त की उसके पिता समरकान्त से बहस हो जाती है। काले खाँ से कंगन नहीं खरीदने पर समरकान्त अमरकान्त पर बहुत क्रोधित होते हैं। प्रेमचन्द कर्मभूमि भाग एक अध्याय आठ सारांश (Karmabhoomi Part … Read more

प्रेमचंद लिखित उपन्यास कर्मभूमि का सारांश : अमरकान्त की बुढ़िया से मुलाकात | Synopsis of Premchand’s Novel Karmabhoomi

प्रेमचंद लिखित उपन्यास कर्मभूमि का सारांश : अमरकान्त की बुढ़िया से मुलाकात

कर्मभूमि अध्याय 7 का संक्षिप्त स्वरूप इस अध्याय में अमरकान्त की मुलाकात काले खाँ नाम के व्यक्ति से होती है, जिससे मिलकर उसे अपने पिता पर क्रोध आता है। काले खाँ के बाद ही उसकी मुलाकात एक बुढ़िया से होती है, जिससे मिलकर उसे अपने पिता पर गर्व महसूस होता है। कर्मभूमि अध्याय – 7 … Read more

कर्मभूमि उपन्यास का संक्षिप्त कथानक | Brief Plot of the Novel Karmabhoomi

कायाकल्प उपन्यास

Study Material : Delhi University, IGNOU, DU, MHD, Munshi Premchand कर्मभूमि उपन्यास का परिचय (Introduction to the Novel Karmabhoomi) कर्मभूमि प्रेमचन्द जी द्वारा लिखित राजनीतिक उपन्यास है। कर्मभूमि उपन्यास पहली बार १९३२ में प्रकाशित हुआ। वर्तमान में अनेक प्रकाशकों द्वारा कर्मभूमि के अनेक संस्करण निकाले जा चुके हैं। इस उपन्यास के माध्यम से विभिन्न राजनीतिक समस्याओं … Read more

प्रेमचंद द्वारा लिखित कर्मभूमि उपन्यास का सारांश : अमरकान्त द्वारा जलसों में क्रांतिकारी स्पीच | Summary of the Novel Karmabhoomi

कायाकल्प उपन्यास का संक्षिप्त सारांश | Brief Summary of Kayakalp Novel

प्रेमचन्द (कर्मभूमि भाग – 1 अध्याय – 6) l Study Material: कर्मभूमि कर्मभूमि अध्याय – 6 का परिचय (Introduction to Karmabhoomi Chapter – 6) इस अध्याय में अमरकान्त डॉ. शान्तिकुमार की एक महीने अस्पताल में सेवा करता है। अस्पताल से छुट्टी मिलने के बाद वह जलसों में जाने लगता है। जलसों में दी गई स्पीच … Read more

प्रेमचंद द्वारा लिखित उपन्यास कर्मभूमि का सारांश : अमरकान्त को माता का स्नेह रेणुका से प्राप्त होना | Summary of the Novel Karmabhoomi

कायाकल्प उपन्यास का संक्षिप्त सारांश | Brief Summary of Kayakalp Novel

प्रेमचन्द (कर्मभूमि भाग – 1 अध्याय – 5) Study Material: कर्मभूमि कर्मभूमि अध्याय – 5 का परिचय (Introduction to Karmabhoomi Chapter – 5) इस अध्याय में रेणुका के आने से अमरकान्त के जीवन में परिवर्तन आता है, अमरकान्त को माता का स्नेह रेणुका से प्राप्त होता है, परिणाम स्वरूप अमरकान्त व सुखदा के बीच भी … Read more

प्रेमचन्द द्वारा लिखित उपन्यास कर्मभूमि का सारांश : रेणुका का नागर में आगमन | Summary of the Novel Karmabhoomi

कायाकल्प उपन्यास का संक्षिप्त सारांश | Brief Summary of Kayakalp Novel

प्रेमचन्द Study Material: कर्मभूमि (कर्मभूमि भाग – 1 अध्याय – 4 कर्मभूमि अध्याय – 4 का परिचय (Introduction to Karmabhoomi Chapter – 4) इस अध्याय में अमरकान्त और सुखदा के बीच अमरकान्त की नौकरी के लिए तनाव बना रहता है। सुखदा बहुत दिनों तक माँ से मिलने नहीं जाती परिणाम स्वरूप सुखदा की माता रेणुका … Read more