Study Material : प्रेमचंद द्वारा लिखित उपन्यास गोदान भाग – 29 | Novel Godan written by Premchand part 29

प्रेमचंद द्वारा लिखित सेवा मार्ग कहानी का सारांश

Study Material : Delhi, IGNOU मुंशी प्रेमचंद | Munshi Premchand गोदान भाग 29 मिल करीब-करीब पूरी जल चुकी है, लेकिन उसी मिल को फिर से खड़ा करना होगा। मिस्टर खन्ना ने अपनी सारी कोशिशें इसके लिए लगा दी हैं। मजदूरों की हड़ताल जारी है, मगर अब उससे मिल-मालिकों को कोई विशेष हानि नहीं है। नए आदमी … Read more

Study Material : प्रेमचंद द्वारा लिखित उपन्यास गोदान भाग – 28 | Novel Godan written by Premchand part 28

प्रेमचंद द्वारा लिखित सेवा मार्ग कहानी का सारांश

Study Material : Delhi, IGNOU मुंशी प्रेमचंद | Munshi Premchand गोदान भाग 28 नोहरी उन औरतों में न थी, जो नेकी करके दरिया में डाल देती हैं। उसने नेकी की है, तो उसका खूब ढिंढोरा पीटेगी और उससे जितना यश मिल सकता है, उससे कुछ ज्यादा ही पाने के लिए हाथ-पाँव मारेगी। ऐसे आदमी को यश … Read more

Study Material : प्रेमचंद द्वारा लिखित उपन्यास गोदान भाग – 27 | Novel Godan written by Premchand part 27

प्रेमचंद द्वारा लिखित सेवा मार्ग कहानी का सारांश

Study Material : Delhi, IGNOU मुंशी प्रेमचंद | Munshi Premchand गोदान भाग 27 मिस्टर खन्ना को मजूरों की यह हड़ताल बिलकुल बेजा मालूम होती थी। उन्होंने हमेशा जनता के साथ मिले रहने की कोशिश की थी। वह अपने को जनता का ही आदमी समझते थे। पिछले कौमी आंदोलन में उन्होंने बड़ा जोश दिखाया था। जिले के … Read more

Study Material : प्रेमचंद द्वारा लिखित उपन्यास गोदान भाग – 26 | Novel Godan written by Premchand part 26

प्रेमचंद द्वारा लिखित सेवा मार्ग कहानी का सारांश

Study Material : Delhi, IGNOU मुंशी प्रेमचंद | Munshi Premchand गोदान भाग 26 गोबर को शहर आने पर मालूम हुआ कि जिस अड्डे पर वह अपना खोंचा ले कर बैठता था, वहाँ एक दूसरा खोंचे वाला बैठने लगा है और गाहक अब गोबर को भूल गए हैं। वह घर भी अब उसे पिंजरे-सा लगता था। झुनिया … Read more

Study Material : प्रेमचंद द्वारा लिखित उपन्यास गोदान भाग – 25 | Novel Godan written by Premchand part 25

प्रेमचंद द्वारा लिखित सेवा मार्ग कहानी का सारांश

Study Material : Delhi, IGNOU मुंशी प्रेमचंद | Munshi Premchand गोदान भाग 25 लाला पटेश्वरी पटवारी-समुदाय के सद्गुणों के साक्षात अवतार थे। वह यह न देख सकते थे कि कोई असामी अपने दूसरे भाई की इंच भर भी जमीन दबा ले। न वह यही देख सकते थे कि असामी किसी महाजन के रुपए दबा ले। गाँव … Read more

Study Material : प्रेमचंद द्वारा लिखित उपन्यास गोदान भाग – 24 | Novel Godan written by Premchand part 24

प्रेमचंद द्वारा लिखित सेवा मार्ग कहानी का सारांश

Study Material : Delhi, IGNOU मुंशी प्रेमचंद | Munshi Premchand गोदान भाग 24 भोला इधर दूसरी सगाई लाए थे। औरत के बगैर उनका जीवन नीरस था। जब तक झुनिया थी, उन्हें हुक्का-पानी दे देती थी। समय से खाने को बुला ले जाती थी। अब बेचारे अनाथ-से हो गए थे। बहुओं को घर के काम-धाम से छुट्टी … Read more

Study Material : प्रेमचंद द्वारा लिखित उपन्यास गोदान भाग – 23 | Novel Godan written by Premchand part 23

प्रेमचंद द्वारा लिखित सेवा मार्ग कहानी का सारांश

Study Material : Delhi, IGNOU मुंशी प्रेमचंद | Munshi Premchand गोदान भाग 23 सोना सत्रहवें साल में थी और इस साल उसका विवाह करना आवश्यक था। होरी तो दो साल से इसी फिक्र में था, पर हाथ खाली होने से कोई काबू न चलता था। मगर इस साल जैसे भी हो, उसका विवाह कर देना ही … Read more

Study Material : प्रेमचंद द्वारा लिखित उपन्यास गोदान भाग – 22 | Novel Godan written by Premchand part 22

प्रेमचंद द्वारा लिखित सेवा मार्ग कहानी का सारांश

Study Material : Delhi, IGNOU मुंशी प्रेमचंद | Munshi Premchand गोदान भाग 22 गोबर और झुनिया के जाने के बाद घर सुनसान रहने लगा। धनिया को बार-बार चुन्नू की याद आती रहती है। बच्चे की माँ तो झुनिया थी, पर उसका पालन धनिया ही करती थी। वही उसे उबटन मलती, काजल लगाती, सुलाती और जब काम-काज … Read more

Study Material : प्रेमचंद द्वारा लिखित उपन्यास गोदान भाग – 21 | Novel Godan written by Premchand part 21

प्रेमचंद द्वारा लिखित सेवा मार्ग कहानी का सारांश

Study Material : Delhi, IGNOU मुंशी प्रेमचंद | Munshi Premchand गोदान भाग 21 इधर कुछ दिनों से रायसाहब की कन्या के विवाह की बातचीत हो रही थी। उसके साथ ही एलेक्शन भी सिर पर आ पहुँचा था, मगर इन सबों से आवश्यक उन्हें दीवानी में एक मुकदमा दायर करना था, जिसकी कोर्ट-फीस ही पचास हजार होती … Read more

Study Material : प्रेमचंद द्वारा लिखित उपन्यास गोदान भाग – 20 | Novel Godan written by Premchand part 20

प्रेमचंद द्वारा लिखित सेवा मार्ग कहानी का सारांश

Study Material : Delhi, IGNOU मुंशी प्रेमचंद | Munshi Premchand गोदान भाग 20 देहातों में साल के छ: महीने किसी न किसी उत्सव में ढोल-मजीरा बजता रहता है। होली के एक महीना पहले से एक महीना बाद तक फाग उड़ती है, असाढ़ लगते ही आल्हा शुरू हो जाता है और सावन-भादों में कजलियाँ होती हैं। कजलियों … Read more